Sarkari Result

Pradhan Mantri Awas Yojana List 2021

 Pradhan Mantri Awas Yojana List | PMAY List | प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट | pmaymis.gov.in list 20 21 | Download Awas Yojana List | PM Awas Yojana List

प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट के अंतर्गत उन लाभार्थियों को शामिल किया गया है जिन्होंने हाल ही में गत वर्ष प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन किया था| केंद्र सरकार द्वारा लाभार्थियों के सभी दस्तावेजों का सत्यापन कर प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट में उनका नाम सम्मिलित किया गया है | देश का कोई भी निवासी जिसने PMAY Yojana के अंतर्गत आवेदन किया है वह आसानी से पीएमएवाई सूची में अपना नाम खोज सकता है | प्यारे दोस्तों आज हम आपको Pradhan Mantri Awas Yojana List 2021 के अंतर्गत अपना नाम खोजने का बहुत ही सरल व आसान तरीका बताने जा रहे हैं|

PMAY List- Urban

Table of Contents

केवल आधार कार्ड की सहायता से कोई भी लाभार्थी प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी के अंतर्गत अपना नाम खोज सकता है इसके लिए सर्वप्रथम आपको पीएमएवाई की आधिकारिक वेबसाइट@pmaymis.gov.in पर जाना होगा| PMAY List 2021 के अंतर्गत केवल उन्हीं परिवारों को सम्मिलित किया गया है जो प्रधानमंत्री आवास योजना की पात्रता को पूर्णता परिपूर्ण करते हैं| ऐसे सभी परिवारों का सत्यापन कर केंद्र सरकार द्वारा उनकी सूची बनाकर आधिकारिक वेबसाइट पर समय समय पर उपलब्ध कराती है ताकि लाभार्थियों को जल्द से जल्द स्वयं का मकान उपलब्ध कराया जा सके| प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट को ऑनलाइन उपलब्ध कराने का उद्देश्य सरकार तथा लोगों के बीच पारदर्शिता को बढ़ाना है एवं योजना के कार्यान्वयन में गति प्रदान करना है

Pradhan Mantri Awas Yojana List

जिन लाभार्थियों का नाम पीएमएवाई शहरी सूची में सम्मिलित होगा उन्हें केंद्र सरकार द्वारा पहली बार स्वयं का घर खरीदने पर 2.35 लाख से लेकर 2.50 लाख तक की ब्याज दरों पर सब्सिडी प्रदान की जाएगी|आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग तथा निम्न आय वर्गो के लिये योजना के अन्तर्गत 6 लाख तक का ऋण 20 साल की अवधि के लिये उपलब्ध कराया जायेगा तथा योजना के अन्तर्गत 6.50 प्रतिशत यानी 2.67 लाख की सब्सिडी देय ऋण पर उपलब्ध करायेगी। एमआईजी 1 तथा एमआईजी 2 ग्रुप के व्यक्तियो को 20 साल के लोन पर 4 फीसदी तथा 3 फीसदी की ब्याज सब्सिडी प्रदान करेगी। कुल मिलाकर एमआईजी 1 तथा एमआईजी 2 ग्रुप को 2.35 लाख व 2.30 लाख की सब्सिडी पर करा रही है।

संक्षिप्त टिप्पणी प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट

योजना का नाम  पीएम आवास योजना 2021
द्वारा लॉन्च किया गया   श्री नरेंद्र मोदी  
लॉन्च की तारीख   वर्ष 2015 
लाभार्थी   भारत का हर नागरिक  
उद्देश्य   प्रत्येक लाभार्थी को पक्का मकान उपलब्ध कराना  
लाभ   सभी के लिए घर 
PMAY योजना नई सूची   अब उपलब्ध है  
डाउनलोड करने की सूची का तरीका ऑनलाइन
वर्ग   केंद्रीय सरकार। योजना
सरकारी वेबसाइट   https://pmaymis.gov.in/ 
Pradhan Mantri Awas Yojana

प्रधानमंत्री आवास योजना अब तक की प्रगति
हाउसिंग डिमांड 112 लाख
हाउसेस संक्शनेड 103 लाख
हाउसेस ग्रांउडेड 60 लाख
कंप्लेटेड हाउसेस 32 लाख
नई तकनीक का उपयोग करके बनाए गए मकान 15 लाख

प्रधानमंत्री आवास योजना जियो टैगिंग

प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत जियो टैगिंग की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। जिसके लिए सरकार द्वारा एक विशेष अभियान चलाया जाएगा। कलेक्टर रविंद्र कुमार चौधरी ने बताया है कि वह सभी शिकायतें जो सीएम हेल्पलाइन पर दर्ज हैं उनका हल 30 नवंबर तक कर दिया जाएगा। कलेक्टर द्वारा यह भी सुनिश्चित किया जा रहा है कि आधार सीडिंग की कार्रवाई भी जल्द से जल्द पूरी हो जाए। सभी लाभार्थियों की आधार सीडिंग 3 दिन में पूरी की जाने का निर्देश कलेक्टर द्वारा दिया गया है। वह सभी पीसीओ तथा सचिव जो आधार सीडिंग के कार्य में लापरवाही करेंगे उनके खिलाफ सख्त कदम उठाए जाएंगे।
अगस्त तथा अक्टूबर माह में पोर्टल पर अपडेशन के दौरान कुछ लाभार्थियों के नाम दस्तावेज पूरे ना होने की वजह से डिलीट कर दिया गए हैं।वह सभी लाभार्थी जिन्होंने अपने पूरे दस्तावेज अपलोड नहीं किए हैं वह जल्द से जल्द पूरे दस्तावेज अपलोड करें।अधिकारियों द्वारा दस्तावेजों का सत्यापन किया जाए और योजना का लाभ प्रदान किया जाए। कलेक्टर ने सभी वार्ड सेक्रेटरी तथा अर्बन बॉडी को यह निर्देश जारी किया है कि यह काम जल्द से जल्द पूरा हो जाए।प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट के अंतर्गत इनकम कैटेगरी
प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत तीन कैटेगरी के लोगों को लोन दिया जाता है। यह कैटेगरी लोगों के सालाना आय के हिसाब से निर्धारित की जाती है। प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत आर्थिक कमजोर वर्ग, निम्न आय वर्ग तथा मध्य आय वर्ग के लोगों को लोन दिया जाता है। कई बार लोगों के मन में यह सवाल आता है कि हम किस कैटेगरी में आते हैं। तो आइए जानते हैं कि इन वर्गों में कितनी आय वाले लोग आते हैं।
आर्थिक कमजोर वर्ग: आर्थिक कमजोर वर्ग के अंतर्गत वह सभी लोग आते हैं जिनकी सालाना आय ₹300000 या फिर उससे कम है। प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत आर्थिक कमजोर वर्ग के लोगों को लोन प्रदान किया जाता है। निम्न आय वर्ग: निम्न आय वर्ग के अंतर्गत वह सभी लोग आते हैं जिनकी सालाना आय ₹300000 से ₹600000 तक है। प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत निम्न आय वर्ग के लोगों को भी लोन प्रदान किया जाता है। मध्य आय वर्ग: मध्य आय वर्ग के अंतर्गत वह सभी लोग आते हैं जिनकी सालाना आय ₹600000 से ₹1800000 तक है। PM Awas Yojana के अंतर्गत मध्य आय वर्ग के लोगों को भी लोन प्रदान किया जाता है। प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत हुआ विकासप्रधानमंत्री आवास योजना के माध्यम से अब तक 1.20 करोड़ रोजगार उत्पन्न हुए हैं। इस योजना के माध्यम से बाजार में डिमांड बढ़ी है। अब तक इस योजना में 17.7 मिलियन मेट्रिक टन सीमेंट कंज्यूम किया गया है। प्रधानमंत्री आवास योजना में अब तक 13 मिलियन मेट्रिक टन स्टील कंज्यूम किया गया है। इस योजना के माध्यम से अब तक 5.8 सीनियर सिटीजन, 3.5 लाख वर्कर, 1 लाख एंटरप्रेन्योर्स, 1.5 लाख अर्तिसंस, 0.63 लाख दिव्यांग, 770 ट्रांसजेंडर आदि को लाभ पोहोचा है। प्रधानमंत्री आवास योजना से संबंधित क्षेत्रों का भी विकास हुआ है।

PM Awas Yojana (Urban) 2021

प्रधानमंत्री शहरी आवास योजना का शुभारम्भ 25 जून 2015 को हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के द्वारा देश के शहरी इलाको के आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग,निम्न आय वर्ग तथा मध्यम आयवर्ग के गरीब परिवार जिनके पास खुद का घर नहीं या कच्चे घर है उन्हें  स्वयं का पक्का मकान उपलब्ध कराने के लिए ऋण उपलब्ध कराया जायेगा | इस योजना के अंतर्गत  केंद्र सरकार का लक्ष्य वर्ष 2022 प्रत्येक पात्र परिवार को स्वंय का घर उपलब्ध कराना है |PM Awas Yojana 2021 के अन्तर्गत सरकार द्वारा शहरी क्षेत्रो मे झुग्गी झोपड़ी,कच्चे मकानो मे रहने वाले और EWS,LIG तथा MIG Income Group के व्यक्तियो को सम्मिलत किया जायेगा।
PM शहरी आवास योजना का उद्देश्य
इस योजना का मुख्य उद्देश्य देश के शहरी गरीब लोगो को जिनके पास रहने के लिए पक्का घर नहीं है या वह बेघर है उन्हें सरकार द्वारा पक्के घर की सुविधा उपलब्ध कराना । पहले मार्च 2022 तक गरीब वर्गों के लिए 2 करोड़ पक्के मकान बनाने का लक्ष्य रखा है। सरकार बिल्डरों की सहायता से चुनिन्दा शहरों में पक्के घरों का निर्माण करने की कोशिश कर रही है । इस योजना के तहत प्रदान किए गए घरों को एक वयस्क महिला सदस्य या पुरुषों के साथ संयुक्त रूप से स्वामित्व किया जाएगा।
आवास योजना का लक्ष्य
प्रधानमंत्री आवास योजना का मुख्य उद्देश्य देश के उन नागरिकों को अपना खुद का घर प्रदान करना है जिनके पास घर नहीं है। भारत सरकार द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए सन 2022 तक एक लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इस योजना के अंतर्गत देश के हर परिवार को पक्का घर मुहैया कराया जाएगा जिसमें पानी का कनेक्शन, शौचालय तथा 24 घंटे बिजली होगी।
प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट की विशेषताएंइस योजना का लाभ शहरी क्षेत्र के गरीब लोग उठा सकते है |इस योजना के अंतर्गत 2022 तक गरीब वर्गों के लिए 2 करोड़ पक्के मकान बनाने का लक्ष्य केंद्र सरकार द्वारा रखा है |PM Awas Yojana 2021 का लाभ उठाने के लिए शहरी क्षेत्र के MIG I के लिए लाभार्थी की वार्षिक आय 6 लाख से 12 लाख रूपये के मध्य होनी चाहिए.और MIG II के लिए 12 लाख से 18 लाख वार्षिक आय होनी चाहिए |देश के लिचुक लाभार्थी इस योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन करके स्वयं का पक्का घर बनाने के लिए ऋण प्राप्त कर सकते है |देश के आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग, निम्न आय वर्ग तथा मध्यम आय वर्गो को केंद्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत Benefits under 3 components में रखा गया है
|प्रधानमंत्री आवास योजना का अकाउंटिंग सिस्टमडिमांड वालिडेशन बाय यूएलबीआधार सीडिंगजियो टैगिंगडीबीटी/पी एफ एम एसडिजिटलाइजेशन विद बैंक अकाउंटवेब डिमांड कैप्चर

प्रधानमंत्री आवास योजना से संबंधित कुछ मुख्य जानकारी

  • प्रधानमंत्री आवास योजना की फंडिंग के लिए नेशनल अर्बन हाउसिंग फंड जो कि 60,000 करोड़ रुपए का है आवंटित किया गया है।
  • अफॉर्डेबल हाउसिंग को इंफ्रास्ट्रक्चर स्टेटस प्रदान किया जाएगा।
  • जीएसटी को 8% से 1% अफॉर्डेबल हाउसिंग प्रोजेक्ट्स के लिए किया जाएगा तथा 12% से 5% अन्य हाउसिंग प्रोजेक्ट के लिए किया जाएगा।
  • अफॉर्डेबल हाउसिंग फंड के अंतर्गत इनिशियल कॉरपस प्रदान किया जाएगा जो कि 10000 करोड रुपए का होगा।
  • इनकम टैक्स में भी छूट प्रदान की जाएगी। यह छूट सेक्शन 80-IBA के अंतर्गत प्रदान की जाएगी। जो कि 30 से 60 स्क्वायर मीटर मेट्रो सिटी के लिए होगी तथा 60 से 90 स्क्वायर मीटर नॉन मेट्रो सिटी के लिए होगी।
  • एक अल्टरनेट इन्वेस्टमेंट फंड प्रस्तुत किया जाएगा जो कि 25000 करोड रुपए का होगा।

PMAY में आने वाले राज्य और शहर

  • निम्नलिखित राज्य हैं जिनमें सरकार शामिल है। शहर / शहरों की पहचान की है और योजना के तहत रखे जाने का निर्माण शुरू किया है-
  • छत्तीसगढ़ – 1000 शहर / कस्बे
  • राजस्थान
  • हरियाणा, 38 शहरों और कस्बों में 53,290 घर
  • गुजरात, 45 शहरों और कस्बों में 15,584 घर
  • उड़ीसा, 26 शहरों और कस्बों में 5,133 घर
  • महाराष्ट्र, 13 शहरों और कस्बों में 12,123 घर
  • केरल, 52 शहरों में 9,461 घर
  • कर्नाटक, 95 शहरों में 32,656 घर
  • तमिलनाडु, 65 शहरों और कस्बों में 40,623 घर
  • जम्मू और कश्मीर – 19 शहर / कस्बे
  • झारखंड – 15 शहर / कस्बे
  • मध्य प्रदेश – 74 शहर / कस्बे
  • उत्तराखंड, 57 शहरों और कस्बों में 6,226 घर

प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत प्रतिवर्ष हुआ विकास

2014 प्रधानमंत्री द्वारा इस योजना की घोषणा की गई
2015 7.26 लाख घर बनवाए गए
2016 16.76 लाख घर बनवाए गए
2017 41.63 लाख घर बनवाए गए
2018 8.33 लाख घर बनवाए गए
2019 100 लाख से अधिक घर बनवाया गए

प्रधानमंत्री आवास योजना की फंडिंग

लाभार्थी का हिस्सा 3.02 लाख करोड
केंद्र सरकार द्वारा प्रदान की जाने वाली सहायता 1.63 लाख करोड़
राज्य सरकार द्वारा प्रदान की जाने वाली सहायता 1.23 लाख करोड़
यूएलबी शेयर 0.25 लाख करोड़

प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट में अपना नाम कैसे खोजें ?

  • प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन करने वाले व्यक्ति जो अपना नाम PMAY List 2021 में खोज रहे हैं वह सर्वप्रथम पीएम आवास योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करें|
  • अब आधिकारिक वेबसाइट के होम पेज पर आपको ऊपर के भाग में एक विकल्प “Search Beneficiary के नाम से दिखाई देगा
  • इस विकल्प पर क्लिक करें तथा एक नया टैब ओपन करें |
  • अब आपको अपने 12 अंको का आधार कार्ड नंबर अंकित करना होगा तथा इसके पश्चात सर्च बटन पर क्लिक करना होगा|

  • यदि आपके द्वारा आधार कार्ड नंबर सही-सही भरा गया होगा तथा आपको केंद्र सरकार द्वारा एक लाभार्थी के रूप में स्वीकृत किया गया होगा तो आपका नाम इस सूची में सम्मिलित किया हो गया होगा और यदि ऐसा ना हुआ हो तो आप इस सूची के अंदर अपना नाम नहीं पाएंगे |

SLNA List कैसे देखे ?

देश के जो इच्छुक लाभार्थी SLNA List देखना चाहते है तो वह नीचे दिए गए तरीके को फॉलो करे।

  • सबसे पहले आपको योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा। ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा।
  • इस होम पेज पर आपको SLNA List का विकल्प दिखाई देगा। आपको इस विकल्प पर क्लिक करना होगा। विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज पर आपको SLNA List खुल कर आ जाएगी।

पीएमएवाई योजना को योजना के अंत तक शुरू करने से तीन चरणों में बांटा गया है।

PMAY चरण -1 अप्रैल 2015 से मार्च 2017 तक- इसमें 100 शहरों को शामिल करने का लक्ष्य रखा गया था।
चरण -2 अप्रैल 2017 से मार्च 2019 तक- इसमें 200 अतिरिक्त शहर शामिल हैं।
PMAY चरण -3 अप्रैल 2019 से मार्च 2022 तक – इसे शेष शहरों को कवर करना है।

सब्सिडी कैलकुलेट करने की प्रक्रिया

  • इसके पश्चात आपके सामने एक फॉर्म खुलकर आएगा जिसमें आपको अपनी सालाना आय, लोन की राशि आदि भरना होगा।
  • इसके पश्चात आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप सबमिट करेंगे सब्सिडी अमाउंट आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगा।

एसेसमेंट फॉर्म एडिट करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको PM Awas Yojana की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको सिटीजन असेसमेंट के टैब पर क्लिक करना होगा।
  • अब आप को एडिट एसेसमेंट फॉर्म के लिंक पर क्लिक करना होगा।

  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको अपनी एसेसमेंट आईडी तथा मोबाइल नंबर दर्ज करना होगा।
  • अब आपको शो के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने एसेसमेंट फॉर्म खुलकर आ जाएगा।
  • अब आपको एडिट पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आप एसेसमेंट फॉर्म एडिट कर सकते हैं।

एसेसमेंट फॉर्म प्रिंट करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको प्रधानमंत्री आवास योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको सिटीजन असेसमेंट के टैब पर क्लिक करना होगा।
  • अब आप को प्रिंट एसेसमेंट के लिंक पर क्लिक करना होगा।

  • अब आपको सर्च कैटेगरी का चयन करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया फॉर्म खुलकर आएगा जिसमें पूछी गई जानकारी आपको दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको सर्च के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने एसेसमेंट फॉर्म खुलकर आ जाएगा।
  • आप इस फॉर्म को डाउनलोड करके प्रिंट कर सकते हैं।

असेसमेंट स्टेटस ट्रैक करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको प्रधानमंत्री आवास योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको सिटीजन असेसमेंट के टैब पर क्लिक करना होगा।
  • अब आप को ट्रैक your एसेसमेंट स्टेटस के लिंक पर क्लिक करना होगा।

  • अब आपको सर्च कैटेगरी का चयन करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें पूछी गई जानकारी आपको दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको ट्रैक स्टेटस के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप एसेसमेंट स्टेटस ट्रैक कर पाएंगे।

आवास योजना के अंतर्गत किन स्थितियों में अटकती है सब्सिडी?

देशभर में काफी सारे लोग ऐसे हैं जिनको प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम का लाभ प्राप्त नहीं हो रहा है। इस बात की शिकायत लाभार्थी विभाग में तथा सोशल मीडिया के माध्यम से कर रहे हैं। इस योजना में यदि आपको सब्सिडी प्राप्त नहीं हो रही है तो एक बार आप निम्नलिखित कारण पढ़ ले।

आधार कार्ड के अनुसार अन्य दस्तावेजों में नाम ना होने की स्थिति

कई बार लोगों से फॉर्म भरते समय भी गलती हो जाती है। फॉर्म भरते समय आपको यह ध्यान रखने की बहुत जरूरत है कि आपने दस्तावेज में आधार कार्ड के अनुसार ही नाम लिखा है। यदि आपने आधार कार्ड के अनुसार नाम नहीं लिखा है तो इस स्थिति में आप की सब्सिडी रुकेगी।

सह मालिक में महिला का नाम

प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत छूट प्राप्त करने के लिए यह जरूरी है कि सह मालिक और सेह उधरकर्ता महिला हो। यदि महिला का नाम सह मालिक में नहीं है तो सब्सिडी का लाभ प्राप्त नहीं होगा।

घर खरीदार

यदि आपको प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम की छूट प्राप्त करना चाहते है तो आपके लिए यह अनिवार्य है कि आप पहली बार घर खरीद रहे हो। यदि आप पहले घर खरीद चुके हैं तो आपको इस योजना का लाभ प्राप्त नहीं होगा।

आय सीमा

प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम का लाभ प्राप्त करने के लिए आय सीमा निर्धारित की गई है। यदि किसी व्यक्ति की आय और घर की श्रेणी में अंतर आता है तो उसे क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम का लाभ प्रदान नहीं किया जाएगा।

कोविड-19 की वजह से भी हुई देरी

 कोरोनावायरस संक्रमण के चलते प्रधानमंत्री आवास योजना की जांच प्रक्रिया में देरी हो गई थी। जिसकी वजह से इस योजना के लाभार्थियों को काफी दिक्कत का सामना करना पड़ा है। अब विभाग द्वारा  जांच प्रक्रिया को तेज किया जा रहा है और सभी पात्र लाभार्थियों को योजना का लाभ प्रदान किया जा रहा है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top